Monday, 26 September 2011

Speak Asia Motivations - 26 September 2011

मेरे सभी स्पीक एशियन भाइयों को एक ख़ुशी सहित शुभ प्रभात ,
भाइयों आप ने बहुत स्पीक एशिया का इंतजार किया और अब उस इंतजार की घडी अंतिम चरण मै चल रही है ! आप सभी को अपने धैर्य का फल मिलने का समय आ गया है ! आप इस बात को अभी इतने विश्वास से नहीं ले रहे जितना उस समय लोगे ! यकीन मन्ना ये मै कोई मजाक या आपके दिल से नहीं खेलना चाहता ये एक सत्य है ! जो अब पूरा होने जा रहा है बस चाँद घड़िया ही आपकी मंजिल के बीच मै है सिर्फ आपको उन चाँद घड़ियों को ही निकलना होगा और १००% अपने दिल मैं सकारात्मक सोच रखनी होगी क्युकी विज्ञानं ने भी ये साबित कर दिया है की आपके चारो तरफ सकारात्मक किरण होती है जो आपको आपकी सोच के अनुसार फल भी देती है जैसा सोचोगे स्रष्टि आपको वैसा ही फल और रूप देदेती है इसीलिए तो श्री मद्भागवत पूरण में भी भगवन श्री कृष्ण ने अर्जुन से यही बात तो कही थी ! हे आर्य अगर तुम सकारात्मक सोच से सोचते हो की तुम कौरवों से जीत चुके हो और कर्म को भी सोच के अनुकूल रखते हो तो तुम्हारी जीत पूर्ण रूप से संभव है ! रामायण मै भी बाल्मीकि जी ने भी यही वर्णन दिखाया है !! जा की रही भावना जैसी प्रभु मूरत देखि तिन तैसी !! यानि जिसकी भावना जैसी होती है स्रष्टि भी उसको ऐसा ही फल देती है ! लेकिन इस बातों को आप एक पुराणी कथा न समझे विज्ञानं ने भी ये साबित कर दिया है की ब्रहमांड मै कोई ऐसी शक्ति है जो हमारी दिमाग के विचारो से जुडी है ! और उस पर बहुत बड़ा शोध भी किया और पता लगा जब हम कोई सकारात्मक विचार सोचते है तब स्रष्टि भी हमारे साथ ऐसा ही करती है यानि हमारे साथ अच्छा ही होना शुरू होता है ! कभी कभी अपलोगो ने देखा होगा अप्कोई काम करने जाते है और ऊसकी कल्पना पहले ही कर लेते है की ये काम शायद होगा नहीं तो वाद मै ऐसा ही होता है ! क्यों पता है क्युकी तुम उस समय उसको अस्तित्व मै दल रहे थे और तुमने जैसा सोचा उसका परिणाम वही मिला अब यहाँ बात स्पीक एशिया पर अति है तो अगर आज स्पीक एशिया जीवित है तो सिर्फ लगभग सभी लोगो को सोच से है लेकिन कुछ लोग जो नकारात्मक विचार रखते है उनकी वजह से स्पीक एशिया को भी उसके कार्य मै कही न कही हनन हूया क्युकी उस समय नकारात्मक प्रकार के लोग स्पीक एशिया को नकारात्मक किरण से पर्पग्य करा रहे थे लेकिन जो सकारात्मक विचार वाले लोग उसे जगह जगह पर शक्ति यानि विचारो की शक्ति दे रहे थे ! तो भाइयो ये कोई मै आपको कहानी नहीं सुना रहा था और ये भी बताना चाहता हूँ ये एक अटल सत्य है जो की सभी जो कामयाबी के शिखर पर पहुचे उके पर ये ही सोच थी ये ही रहस्य था जिसके कारन वो कामयाबी को परत करने मै सक्षम रहे ! तो आप सभी भाइयों से मै यही अनुरोध करता हूँ की अपनी जीवन की डिक्सनरी मै से नकारात्मक नाम का पन्ना फाड़ दो और अब सिर्फ हिम्मत , सहस , धेर्य और अपने सकारात्मक विचारों के साथ अपने आपको देखो मै वडा करता हूँ की तुम्हारी मंजिल तुम्हारी मुट्ठी मै होगी १००% बस भाइयों इस रहस्य को मै आप लोगो को शेयर करना चाहता था और आज मैंने कर दिया और आप भी अपने लोगो को शेयर करे जिससे हम स्पीक एशिया को एक पोजिटिव एनेर्जी दे सके ! आज से अपने जीवन को ऐसे जीओ जैसे चारो ओर तुम्हारी ख़ुशी तुम्हे बुला रही है और पूरी दुनिया तुम्हे प्यार कर रही है ऐसी सोच के साथ अपने हर दिन की शुरू आत करो निशिचित जीवन मै सफलताये आपके आती रहेंगे ......................................जय स्पीक एशिया 
आप ही मै से एक आपका स्पीक एशिया भाई


---------------------
आज में आपके साथ फिर से कुछ बातें शेयर करना चाहूँगा और वो ये कि स्पीक एशिया में काम करने वाला हर एक स्पीक एशियन अपनी बात कहने के बाद अंत में एक वाक्य लिखता है "प्राउड टू बी स्पीक एशियन " शायद आपको ये नहीं पता के आप जाने अनजाने में कितना सच कह रहे है जी हाँ आप १०० प्रतिशत सही है ! और वो इसलिए क्युकी वो वक़्त बहुत ही जल्द आने वाला है जब आपको इस बात का अहसास होगा के आप क्यों उस वाक्य का उपयोग करते थे ! स्पीक एशिया उस कंपनी का नाम है दोस्तो जो इस दुनिया में अपना नाम स्वर्ण अक्षरों में अंकित कराएगी आपको मेरी बात शायद आज अजीब सी लगे पर ये आने वाला वक़्त बता देगा कि में सही था और में ही नहीं मेरे जैसे और भी कई स्पीक एशियन भाई जो ऐसा सोचते है सही थे !
ऐसा में अपनी मन गढ़ंत बातों के आधार पर नहीं बल्कि तथ्यों के आधार पर कह रहा हूँ और शायद आपमें से मेरे और भी भाइयों ने उन तथ्यों को जांचा हो , तो अगर आपमें से कोई भाई ये सोचता हो के स्पीक एशिया नहीं चलेगी या चलने नहीं दिया जायेगा या भाग जाएगी तो वो अपने दिमाग में से ये बात बिलकुल निकाल दें बल्कि ये कहूँगा के हमेशा के लिए भूल जाएँ क्युकि मेरे प्रिय भाइयो स्पीक एशिया का जन्म तो इतिहास रचने के लिए हुआ है न कि बदनाम होके वापस जाने के लिए आप यकीं मानना कि ये बदनामी ही आगे चलकर स्पीक एशिया का हथियार बनेगी और ये बदनामी एक बहुत बड़े नाम में तब्दील हो जाएगी जब स्पीक एशिया निर्दोष साबित होकर धमाके से से अपना कारोबार फिर से सुरु करेगी !
एक सच्चा स्पीक एशियन और आपका स्पीक एशियन भाई
Our Advertisers ( This
Area You can Advertise Also )


Paid Surveys



Fraud Companies


Ram
Survey Fraud


Delhi Detectives


web designer in delhi


medical transcription from home

Wedding Planner


Water Level Controller

Delhi Stationery Suppliers

Office
Stationery


HP Cartridges Delhi

Delhi
Astrologers

Seo Company
India

Stationery
Shops

Stationery
Suppliers in Gurgaon

1 Comments:

At 26 September 2011 at 23:30 , Blogger vilasraje said...

the above message we cant access what is problem we
dont no. all the words are in sercal pl sent in appropriete font
आज में

 

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home